एक कहानी मैं कहूं/डा. वीरेंद्र पुष्पक

मैं एक शादी में जानसठ गया था। शादी मेरी पत्नी की भांजी की लड़की की थी। मेरे साथ मेरा बेटा शोभित और प्रियांशी भी थी। मंडप में थोड़ा पहले पहुँच गए हम लोग। पहुंचने पर दामाद ने दिल से स्वागत किया। लोगो से मुलाकातें हुईं। कुछ देर बाद मैं एक कुर्सी पर बैठ कर अपने […]

जांबाज लड़कों ने हादसे में घायलों की बचाई जान

बिजनोर। 18 मई 2018 जनपद के स्योहारा निवासी डॉ वीरेंद्र पुष्पक के पुत्र मोहित पुष्पक और हिमांशु पुष्पक काशीपुर से देहरादून जा रही बस में यात्रा कर रहे थे । बस जसपुर – अफजलगढ़ के बीच बद्दिगढ़ में थी तभी सामने से आते टृक को देख बस ड्राईवर बस पर कण्ट्रोल नहीं कर पाया। सुबह […]